Thursday, January 9, 2020

Blog पर Traffic कैसे बढ़ाएं  (15+ तरीके)

Blog पर Traffic कैसे बढ़ाएं (15+ तरीके)

Blog पर Traffic कैसे बढ़ाएं - how to increase blog traffic यह समस्या सभी न्यू ब्लॉगर की होती है क्योंकि हर कोई Blog तो बना लेता है लेकिन ब्लॉग में organic traffic बढ़ाने में सभी लोग सफल नहीं हो पाते क्योंकि blog traffic increase करने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है और ब्लॉग पर Visitors नहीं आना मतलब वह ब्लॉग कोई काम का नहीं। क्योंकि सभी लोग ब्लॉगिंग इसीलिए करते हैं ताकि उस ब्लॉग से पैसे कमा सकें और इसके लिए ब्लॉग में विजिटर्स की संख्या बढ़ाना बेहद अनिवार्य है।

बहुत से न्यू ब्लॉगर ऐसे हैं जो कुछ समय के लिए ब्लॉगिंग करके फिर उसे छोड़ देते क्योंकि वह अपने blog पर traffic बढ़ाने में नाकामयाब रहते हैं। ब्लॉग बनाना बहुत आसान है लेकिन उस पर ट्रैफिक लाना बहुत ही मुश्किल काम है। और बिना traffic का ब्लॉक बिना आत्मा के शरीर जैसा होता है इसीलिए आपको न्यू ब्लॉग में ट्रैफिक बढ़ाने के लिए कुछ टिप्स को फॉलो करना होता है जो सभी नए ब्लॉगर्स को अपने blog पर करना बेहद जरूरी होता है। और यह करने के बाद आपको कहीं भी how to increase organic traffic on website के बारे में जानने की जरूरत नहीं रहेगी।
Blog पर Traffic कैसे बढ़ाएं
Blog पर Traffic कैसे बढ़ाएं
अगर देखा जाए तो पूरे वर्ल्ड में लगभग हर 1 सेकेंड के अंदर 7 से 8 हजार न्यू ब्लॉग, वेबसाइट बनाई जाती है। पर यह बात जानकर आपको आश्चर्य होगा कि उनमें से दो या तीन फ़ीसदी Blogger ही लंबे टाइम तक बने रह पाते हैं। 2-3 ब्लॉगर ही ऐसे होते हैं जो अपना खुद का ब्रांड बना लेते हैं उसका मेन रीजन होता है अपने blog में traffic नहीं आना और ज्यादातर लोग ब्लॉगिंग को छोड़ देते हैं।

तो चलिए आज मैं आपको blog में traffic कैसे बढ़ाएं के बारे मे सभी ट्रिक्स बताऊंगा जो 100% सही है। और यह करना भी जरूरी है मैं खुद अपने Blog में traffic को बढ़ाने के लिए इसका यूज करता हूं।

Blog पर Traffic बढ़ाने के 18 तरीके

फ्रेंड्स वैसे तो बहुत सारे ऐसे ways हैं जिनके जरिए आप Visitors की संख्या बढ़ा सकते हैं। पर मैं यहां पर आपको कुछ ऐसे पॉइंट्स बताने वाला हूं। जिनका यूज़ आपको traffic बढ़ाने के लिए अपने ब्लॉग, वेबसाइट में करना बेहद जरूरी है।

मैं आपको कहना चाहता हूं की अगर आपके मन में यह सवाल आता है कि how to increase blog traffic fast तो उसे निकाल दीजिए क्योंकि ब्लॉग वेबसाइट की ट्रैफिक को बढ़ाने का कोई शॉर्टकट रास्ता नहीं है आप ब्लॉग में रातों-रात ट्रैफिक नहीं बढ़ा सकते इसके लिए आपको पूरे तरीके से मेहनत करनी पड़ेगी।

आप बड़े-बड़े ब्लॉगर से पूछ कर देख लो उन्होंने भी traffic बढ़ाने के लिए दिन रात मेहनत की होगी यूं ही एकाएक ट्रैफिक नहीं बढ़ा होगा। तभी आज वह टॉप पर पहुंच सकें है। तो आप भी जानना चाहते होगे की blog website में traffic कैसे लाएं

Website traffic के ऐसे 5 sources हैं जहां से आपको अच्छी खासी traffic मील सकती है।

 Organic traffic
 Social traffic
 Direct traffic
 Other traffic
 Referral traffic

इन सभी sources के द्वारा किसी भी ब्लॉग या वेब पेज पर Visitors आते हैं। इनमे से अगर आपको Organic traffic मिलता है तो यह आपके लिए ज्यादा फायदेमंद रहता है। लेकिन आज के टाइम में ऑर्गेनिक ट्रैफिक मिलना इतना आसान नहीं है। क्योंकि ब्लॉगिंग में कंपटीशन बहुत बढ़ गया है। इसके लिए आपको बहुत मेहनत करनी पड़ेगी

तो यहां पर हम जानेंगे इन सभी माध्यमों के द्वारा आप अपनी website में traffic कैसे बढ़ा सकते हैं? - how to increase a website's traffic

1)  Professional Blog Design करें

ब्लॉग में ट्रैफिक को लाने के लिए पहले आपको एक अच्छा सा Theme पसंद करके अपने ब्लॉग को एक प्रोफेशनल लुक से डिजाइन करना होगा। क्योंकि घटिया तरीके की डिजाइन पर कोई एक बार तो आ जाता है लेकिन दूसरी बार वह नहीं आएगा

कई ब्लॉग ऐसे होते हैं जिनका बैकग्राउंड और Text नीले, पीले कलर का और घटीया सी Font Size अब ऐसी साइट पर कौन ज्यादा देर तक रुकेगा और ऐसा होने से उस साइड का Bounce Rate भी बढ़ेगा जिससे वह ब्लॉग गूगल की नजर में परोसा पात्र नहीं रहेगा और वह blog रैंक नहीं होगा और rank नहीं होगा तो ट्रैफिक भी नहीं आएगा।

तो आप एक अच्छी light weight वाली Theme पसंद करें। जो Responsive और Mobile Friendly होनी चाहिए। ताकि आपके यूज़र ब्लॉग के कंटेंट को आसानी से रिड कर सके।

Theme पसंद करने से पहले निम्न चीजों को जरूर देखें।

  • proffessional और light weight दिखने वाली Theme पसंद करें।
  • आपकी थीम Responsive और Mobile Friendly होनी चाहिए। 
  • आप जो भी Theme पसंद करें याद रहे उसमें Sidebar, featured images जैसे option शामिल हो। 

2) SEO (Search Engine Optimization) करें

SEO यानी कि Search Engine Optimization अगर यह काम आप अपने ब्लॉग पर नहीं करते हैं तो आपके ब्लॉग पर Traffic आना बहुत ही कठिन है। यह Point आपके blog pr traffic को बढ़ाने के लिए बेहद जरूरी होता है। क्योंकि SEO करने से Search engine से हमारी साइट पर एक दिन में लाखों में ट्रैफिक आ सकती है। इसीलिए आपको अपने ब्लॉग को Search Engine के अनुकूल बनाना चाहिए।

चाहे आप कोई भी तरीका आजमालो लेकिन आप अपने ब्लॉग को search engines के अनुकूल नहीं बनाओगे तो आप organic traffic आने के ख्वाब छोड़ दीजिए।

Search Engine Optimization में बहुत सारे algorithms काम करते हैं और आपको अपने ब्लॉग में इन सभी Points पर सावधानी से काम करना है। अगर देखा जाए तो SEO पर कोइ 100% स्पष्टता नहीं कर सकता क्योंकि गूगल के एल्गोरिदम बदलता रहता है। लेकिन कुछ पुराने और पॉपुलर ब्लॉगर्स के अनुभव की गणना से इसके लिए काम कर सकते हैं।

अगर आप हर दिन दो से तिन घंटा SEO सीखोगें तो आप कुछ हफ्ते या महीने के अंदर SEO सीख जाएंगे। इसके बाद आप अपने ब्लॉग में बहुत ही आसानी से SEO का काम कर सकते हैं।

SEO के मुख्य दो हिस्से होते हैं।

 On-page SEO
 Off-page SEO

On-page SEO उसे कहा जाता है जो काम ब्लॉग के अंदर किया जाता हो जैसे ब्लॉग की Design करना Title और Meta Description देना Keywords का यूज करना Tags लगाना Pages बनाना internal Links, External links, etc. यह सब on page seo के Under होता है। और यह सब काम हमें ब्लॉक पर organic Traffic बढ़ाने के लिए ऑप्टिमाइज करना रहता है और यह सब काम हमें ब्लॉक के अंदर ही करना होता है जो हम बेहद इजी तरीके से कर सकते हैं।

अगर आपकी साइट WordPress पर है तो आपको ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी क्योंकि वर्डप्रेस पर ऐसे बहुत सारे Plugins मिल जाते हैं जो यह काम अपने आप ही कर देते हैं।

Offpage SEO उसे कहा जाता है जो काम हम अपने ब्लॉग के बाहर रहकर करते हैं। जैसे बैकलिंक बनाना, सोशल मीडिया पर काम करना और वहां से अपनी साइट पर ट्रैफिक लाना इसी तरह Forums, Guest Post, इत्यादि यानी कि जो काम ब्लॉग से बाहर रहकर किया जाता है उसे Offpage SEO कहते हैं।

वैसे देखा जाए तो On page SEO से Off page SEO करने में टाइम ज्यादा व्यथित होता है। क्योंकि यहां पर हमें अपने ब्लॉग के बाहर दूसरी साइट पर डिपेंड रहेना पड़ता है। फिर भी अगर आप off page seo के लिए हर दिन 2 घंटे का समय निकाल के उस पर काम करते हो तो यह आपकी साइट के लिए बेहद फायदेमंद सिद्ध होता है।

3) Unique और High quality content लिखे

आप अपने Blog Website Traffic को बढ़ाना चाहते हैं तो आपको यूनिक कंटेंट लिखना होगा। यानी कि दूसरों से अनोखा किसी भी साइट से मिलता जुलता नहीं होना चाहिए। आपको किसी का कहीं से भी कॉपी नहीं करना है। अगर आप वही सब लिखेंगे जो इंटरनेट में पहले से मौजूद है तो कोई भी यूजर आपकी पोस्ट नहीं पढ़ेगा। क्योंकि वही सब तो वह पहले पढ़ चुका है तो आप कोशिश यह करें कि अपनी पोस्ट में कुछ नया लिख सकें।

हालांकि आज के टाइम में Unique content लिखना मुश्किल काम जरूर है। फिर भी आपको प्रयास यही करना है कि दूसरों से हटके लिखें आपका आर्टिकल अन्य से पृथक होना चाहिए तभी यूजर आपकी साइट पर आएंगे क्योंकि सभी को कुछ न कुछ नया चाहिए होता है। इसीलिए आप कॉपी करेंगे तो आपकी मेहनत बेकार है।

कॉपी किया हुआ कंटेंट कभी रैंक नहीं करता है। फिर चाहे वह Text हो या Image सभी को यूनिक ही रखना है। अगर आपके द्वारा कॉपी की हुई सामग्री सामने वाले को पता चलने पर वह DCMA कंप्लेंट कर सकता है ऐसे में आपकी साइट सर्च इंजिन से हटा दी जा सकती है। तो आप अपने तरीके से बनाया हुआ यूनिक कंटेंट लिखें ताकि आपके blog की traffic Increase हो।

High quality content लिखने के लिए इन बातों का ध्यान रखिए।

  • आप अपनी हर एक पोस्ट में ऐसे Keywords इस्तेमाल करें जो अधिक मात्रा में सर्च होते हो।
  • कहीं से भी कॉपी नहीं किया हुआ अपना खुद का Unique content ही लिखें
  • ज्यादा से ज्यादा शब्दों के साथ लंबे पोस्ट लिखें 1000 या उनसे ऊपर आप 1500+ भी जा सकते हैं।
  • पोस्ट में Heading और Sub heading का यूज जरूर करें h1, h2 .... और हो सके तो हेडिंग में Keywords जरूर दें।
  • आप जिस भाषा में भी लिखें ध्यान रहे कि आपके आर्टिकल मे कोई स्पेलिंग मिस्टेक ना हो।
  • लंबी Post लिखें:

आप अपनी पोस्ट को जितना हो सके उतना लंबा लिखने की कोशिश कीजिए कम से कम 1500 या 2000 Word की जरूर लिखें और इतनी बड़ी पोस्ट लिखना बेशक थोड़ा कठिन काम है लेकिन नामुमकिन नहीं है जब आपके पास अपने विषय के बारे में पूरी जानकारी होगी।

मैं अपनी किसी भी पोस्ट को कितना भी छोटा लिखूं वह 2000+ शब्दों में हो ही जाती है। अगर आपको ब्लॉगिंग का शौक है और आपको ब्लॉगिंग की पूरी जानकारी है तो आपके लिए किसी पोस्ट को 2000+ शब्दों में लिखना ज्यादा मुश्किल नहीं होगा।

मैं भी अपनी हर एक पोस्ट को 1500+ Word में लिखने की कोशिश करता हूं और बहुत सारी पोस्ट ऐसी भी है जो 2000+ शब्दों में भी लिखी हुई है। बड़ी पोस्ट लिखना मतलब यह नहीं है कि आप अपने टॉपिक से भटक जाए और कुछ भी लिख दें ऐसा करने से फायदा नहीं बल्कि नुकसान ही होगा आपको अपनी पोस्ट में Quality content लिखना होगा तो आप पोस्ट लंबी जरूर लिखें लेकिन उसके साथ क्वालिटी कंटेंट पर भी ध्यान दें।

आप लंबी पोस्ट लिखेंगे मतलब Google को यह लगेगा कि आपने इस विषय के बारे में सब कुछ विस्तार से बताने का प्रयास किया है और गूगल ऐसी पोस्ट को सर्च रिजल्ट में पहले दिखाता है जिस पोस्ट में विस्तार से बताया गया हो अगर आप लंबी पोस्ट लिखते हैं तो यह धीरे-धीरे Search result में ऊपर आती जाएगी और आपके विजिटर्स की संख्या भी बढ़ती जाएगी।

लंबी पोस्ट लिखने का एक फायदा यह भी होता है कि कोई भी आपका कंटेंट पढ़ेगा तो वह आपकी साइट पर ज्यादा टाइम तक रहेगा। क्योंकि छोटी पोस्ट के बजाय लंबी पोस्ट को पढ़ने में ज्यादा समय लगता है इससे गूगल की नजर में आपका वह कंटेंट क्वालिटी कंटेंट लगेगा क्योंकि सभी यूज़र आपके उस पोस्ट में ज्यादा समय बिता रहे हैं इससे आपकी पोस्ट धीरे-धीरे रैंक होने लगेगी और आपके Blog में Traffic बढ़ता जाएगा।

यह पोस्ट भी पढ़े
Event Blogging Kya Hai - कैसे करते है?
Google Adsense Account Approved Kaise Kare - 2020 [ best trick ]

5) keywords research करें

जब भी आप कोई नई पोस्ट लिखें उससे पहले keywords research जरूर करें। क्योंकि बगैर कीवर्ड रिसर्च के आर्टिकल लिखना मतलब जानबूझकर किसी कुऐ में कूदना जैसा होगा और बिना कीवर्ड रिसर्च के पोस्ट को रैंक करना बहुत ही कठिन काम होगा।

आप अपनी पोस्ट में ऐसे कीवर्ड का यूज करें जिनका सर्च ज्यादा और कॉन्पिटिशन लो हो साथ ही साथ cpc ज्यादा हो। आप पोस्ट की लेंथ के हिसाब से keywords का यूज कर सकते हैं। आप अपने Primary Keyword को आर्टिकल के फर्स्ट पैराग्राफ में जरूर यूज़ करें साथ ही साथ टाइटल और URL में देना बेहद जरूरी है। अगर हो सके तो Heading और Sub-Heading में भी दे। आप अपनी पोस्ट में जितनी भी इमेज यूज करें वह सभी में Alt Tag में उस Keywords का यूज करना ना भूले जिससे आपकी इमेज भी सर्च रिजल्ट में दिखे और वहां से भी आपको अपने ब्लाॅग में ट्राफिक मिले।

किसी भी पोस्ट को रैंक कराने में Keywords का अहम रोल होता है। इसीलिए आपको अपनी हर एक पोस्ट में ऐसे कीवर्ड का यूज करना चाहिए। जीसका Search ज्यादा किया जाता हो।

keywords research कैसे करें

तो यहां पर मैं आपको। 4 keywords research tools बता रहा हूं जहां से आप अपना keywords फाइंड कर सकते हैं।

Semrush (paid) tool
 keywords everywhere (paid) tool
 google keywords planner (free) tool
 ubersuggest (free) tool

6) अपनी Site की Loading Speed को ठीक करें।

आपको अपने blog को समय-समय पर किसी टूल्स पर चेक करता रहना चाहिए कि आपका ब्लॉग पूरी तरह से लोड होता है तो कितना टाइम लेता है, इसके लिए आप गूगल के PageSpeed Insights Tool का यूज कर सकते हैं क्योंकि ऐसे ब्लॉग पर कोई नहीं जाएगा जीस ब्लॉग की स्पीड बहुत स्लो होती है और Google भी ऐसी साइट को सर्च रिजल्ट में नीचे रखेगा क्योंकि गूगल नहीं चाहता कि ऐसी साइट Search result में रैंक करें जीस साइट पर कोई नहीं जाता।

अगर आप किसी अन्य ब्लॉग पर विजिट करने जाते हैं और वह ओपन होने में कुछ ज्यादा ही टाइम लेता है तो क्या आप ऐसे blog पर जाना पसंद करेंगे, बिल्कुल नहीं। आप इसको छोड़ कर किसी दूसरे ब्लॉग पर चले जाएंगे जो ज्यादा फास्ट ओपन होता है क्योंकि आज के टाइम में किसी के पास टाइम ही कहां है सभी को सब कुछ फास्ट ही चाहिए होता है।

तो आप ऐसी Theme का चुनाव करें जो ज्यादा टाइम ना लेती हो अन्यथा आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आने भी लगी है तो वह भी धीरे-धीरे कम होती जाएगी और आपको इसमें नुकसान ही होगा। अगर आपका ब्लॉग पूरी तरह से लोड होने में 3 सेकंड से ज्यादा समय लेता है तो आपको अपने ब्लॉग की लोडिंग स्पीड को Optimize करने के बारे में जरूर सोचना चाहिए। इसके लिए आपको नीचे बताइए गई कुछ चीजों को ऑप्टिमाइज करना होगा।

Blog के Loading time को कम करने के लिए नीचे बताई गई चीजों को Optimize करें। 

  • आप अपने ब्लॉग में यूज होने वाली सभी इमेज को Optimize जरूर करें।
  • Java scripts और css को जीतना हो सके कम करें।
  • Blog के server response time को कम करें
  • Redirection का यूज़ ज्यादा ना करें
  • Light weight टेंपलेट यूज़ करें। इत्यादि

7) अच्छी Web Hosting खरीदें।

अगर आपकी साइट WordPress पर है तो आपको एक अच्छी वेब होस्टिंग की आवश्यकता रहेगी क्योंकि गलत Web Hosting आपकी वेबसाइट के लिए मुसीबत खड़ी कर सकती है। इससे आपकी वेबसाइट ज्यादातर डाउन में ही रहेगी। कोई भी यूजर आपकी साइट पर आएगा और वह लोड होने में ज्यादा टाइम लेगी जिससे वह यूजर आपकी साइट पर विजिट ही नहीं करेगा जिससे आपका ट्रैफिक कम होता जाएगा। तो इसके लिए आप यह आर्टिकल पढ़े Web Hosting क्या है? कितने प्रकार की होती है?

8) Image को Optimize करें।

किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट में यूज होने वाली Image को Optimize करना बेहद जरूरी होता है। क्योंकि optimize की गई Image, ब्लॉग वेबसाइट के प्रदर्शन को सुधारता हैं, गूगल इमेज सर्च की रैंकिंग में भी फायदा होता है और साइट का SEO score भी बेहतर होता है।

ज्यादातर न्यू ब्लॉगर इमेज को optimized नहीं करने की भूल करते हैं और करते भी है तो सही तरीके से नहीं करते हैं इसीलिए उस ब्लॉग वेबसाइट की इमेज सर्च रिजल्ट में ऊपर नहीं आ पाती है जिसकी वजह से उनके ब्लॉग में Organic traffic नहीं मिल पाता है।

Image optimize हम इसीलिए करते हैं ताकि User experience अच्छा रहे। इमेज ऑप्टिमाइजेशन में किसी भी इमेज की साइज को कम किया जाता है जिससे वेब पेज की स्पीड अच्छी मिलती है और SEO score भी सुधरता है। इसके साथ-साथ आप इमेज को Rename करते हैं और Alt tag लगाते हैं तो आपकी पोस्ट ज्यादा SEO friendly हो जाती है।

यह पोस्ट भी पढ़े
☞ Blog Me Images kaise Use Kare - [ best 4 tarike ]
google से copyright free images कैसे download करे ?

अगर कहे तो यह एक ऐसी प्रक्रिया होती है जिसका सही तरीके से यूज करने से ब्लॉग वेबसाइट में यूज होने वाली इमेज को search engine friendly बनाई जाती है जिससे कि हमारे ब्लॉग में ट्राफिक बढ़ने के चांस बढ़ जाते हैं।

नीचे कुछ पॉइंटस बताइए हैं जिनका यूज Image optimization के लिए करें।

  • अपने विषय के संबंधी और copy right free Image ही डाउनलोड करें।
  • Image का पुराना नाम रिमूव करके नया नाम बदले ( Rename) करें।
  • Image की size को कम करें (Resize) करें।
  • Image को Compress करें यानी की Image का weight कम करें।
  • ब्लॉक पोस्ट के सभी इमेज में Alt tag का उपयोग जरूर करें।

9) अपनी साइट को Mobile Friendly बनाए।

अगर देखा जाए तो आज के टाइम में ज्यादातर लोग यानी कि 70% लोग इंटरनेट का यूज मोबाइल से ही करते हैं और हर दिन मोबाइल का यूज करने वाले लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। तो ट्रैफिक बढ़ाने के लिए आपको अपने ब्लॉग वेबसाइट को mobile friendly बनाना बेहद जरूरी है ताकि मोबाइल के जरिए आपके ब्लॉग पर आने वाले लोग कंटेंट को अच्छी तरह से पढ़ सकें।

अगर आप अपने ब्लॉग को मोबाइल फ्रेंडली नहीं बनाते हैं तो गूगल मोबाइल सर्च रिजल्ट में आपके ब्लॉग की रैंकिंग डाउन हो सकती है जिससे आपकी साइट में आने वाला ट्रैफिक भी कम हो सकता है।

अगर आप अपनी साइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाते हैं तो गूगल भी आपकी साइट को अग्रता देगा इसीलिए गूगल ने ब्लॉग्स को ऑप्टिमाइज करने के लिए Mobile friendly test tool बनाया है जिसकी सहायता से आप अपनी साइट को यहां पर जांच के साइड की रैंकिंग को बढ़ा सकते हैं।

10) SSL https का यूज करें।

गूगल ने http वाली साइट को Search Engine में दिखाना कम कर दिया है। अब Google Chrome में ऐसी वेबसाइट डाउन दिखेगी जो http में चल रही है। बिना https वाली साइट को गूगल क्रोम ब्राउजर में ओपन करने पर No Secure का मैसेज दिखाई देगा जिससे यूजर ऐसी साइट को विजिट नहीं करेंगे और उस साइड में ट्राफिक कम होता जाएगा।

अगर आपकी वेबसाइट भी HTTP में चल रही है तो आप फौरन ही उसे https पर सेट कर दें क्योंकि गूगल अभी भी ज्यादा सुरक्षित वेब चाहता है और https को एक रैंकिंग फैक्टर के नजरिए से यूज कर रहा है। इसीलिए https वाली साइट को गूगल सर्च रिजल्ट में अच्छी रैंकिग मिल रही है।

11) Trends Topics पर article लिखें।

आपके ब्लॉग या वेबसाइट के विषय से रिलेटेड trends topics पर आर्टिकल लिखिए इससे आप अपने blog में ज्यादा traffic ला सकते हैं। क्योंकि ट्रेंड्स टॉपिक पर आर्टिकल लिखने से वह जल्दी रैंक कर करके फर्स्ट पेज पर आ सकता हैं और फर्स्ट पेज में आने पर आपके उस एक ही आर्टिकल पर हजारों लाखों में विजिटर आ सकते हैं। जिससे आपकी पूरी साइट रैंक करने लग जाएगी

Trends topics के बारे में जानने के लिए आप google trends का इस्तेमाल कर सकते हैं और यहां से आप नवीनतम Keyword के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं जो आज के टाइम में सबसे अधिक सर्च किया जाता हो। इस पर पोस्ट लिखने से आपकी साइट में ऑर्गेनिक ट्रैफिक आएगा आप normal trends पर भी पोस्ट लिख सकते हो जैसे new year, holi, diwali आदि।

12) High-Quality Backlinks बनाएं।

Backlinks गूगल के बहुत पुराने रैंकिंग कारण है जिनका का उपयोग गूगल पहले पृष्ठ पर एक सामग्री को रैंक करने के लिए करता है। यह आपकी साइट के डोमेन प्राधिकरण, वेबसाइट ट्रेफिक और वेबसाइट रैंकिंग को increase करने में सहायता करता है।

लेकिन खराब, एक कम गुणवत्ता वाले बैकलिंक्स आपके ब्लॉग की रैंकिंग को loss कर सकता है जीससे आपके ब्लॉग को खोज परिणामों में अच्छी रैंकिंग नहीं मिलेगी कहने का तात्पर्य यह है कि आप की सामग्री खोज परिणाम के सातवें या आठवें पृष्ठ में दिखाई देगी या खोज परिणाम में दिखाई भी नहीं देगी जिसका आपको कोई फायदा नहीं होगा। क्योंकि उतने पेज पर कोई जाएगा ही नहीं तो ट्राफिक आएगा ही नहीं।

इसीलिए आपको high-quality backlinks ही बनाने चाहिए। जब आप 1000 low-quality backlinks बनाने में अपना टाइम वेस्ट करते हैं उससे अच्छा है आप 100 quality backlinks बनाए जो आपकी साइट को 1000 low-quality backlinks से कई गुना फायदा करेगा। इसीलिए आप हाई क्वालिटी बैकलिंक्स जरूर बनाए यह आपकी blog traffic increase तो जरूर होंगी साथ ही साथ साइट का DA और PA भी बढ़ेगा।

13) Quora का यूज करें।

अगर मैं अपनी बात करूं तो जब मैंने नया ब्लॉग स्टार्ट किया था तब 80% ट्रैफिक मेरे ब्लॉग में Quora से ही आता था। अगर Quora का आप सही तरीके से यूज करते हैं तो यहा से आपको हजारों नहीं पर लाखों में ट्रैफिक मिल सकता है यह मेरा खुद का एक्सपीरियंस है जो मैं आपको यहा बता रहा हूं आप इसे जरूर ट्राई करें।

अक्सर, न्यू ब्लॉगर को traffic जल्दी नहीं मिलता है उनके लिए Quora बेस्ट विकल्प है जहां से कम समय में ट्रैफिक को बढ़ाया जा सकता है। अगर आप एक ब्लॉगर है तो Quora के बारे में आप भली-भांति जानते ही होंगे फिर भी मैं आपको बता देता हूं कि Quora एक क्वेश्चन एंड आंसर वेबसाइट। यहां पर आप कोई भी सवाल पूछ सकते हैं और किसी भी सवाल का जवाब भी दे सकते हैं।

यहां से ट्रैफिक लेने के लिए आपको Quora में अपना अकाउंट बनाना होगा फिर आप यहां पर सवाल जवाब कर सकते हैं। यहां पर आप ऐसे सवाल ढूंढे जिस पर आपने आर्टिकल लिखा है। और ऐसे सवाल ढूंढ के उनका अच्छे से जवाब दें और उन जवाब में कहीं भी आप अपने पोस्ट की लिंक दे सकते हैं। आपको पूरा जवाब नहीं देना है आधा जवाब लिखकर वहां पर अपने आर्टिकल की लिंक दे देनी है जिससे कि पूरा जवाब पढ़ने के लिए इस लिंक के जरिए लोग आपके ब्लॉग पर आएंगे इसी तरह से जितने ज्यादा सवाल के जवाब आप लिखेंगे उतना ही आपको ज्यादा फायदा होगा।

मैं आपको गारंटी के साथ कहता हूं यहां पर आप हर दिन के कम से कम 10 सवाल के जवाब भी देंगे तो आपके पेज व्यू जो 10 या 15 होते थे वह 200 से 300 तक हो जाएंगे और अगर आप Quora में लगातार काम करते रहे तो आपका traffic लगातार बढ़ता ही जाएगा। याद रहे आपको सभी सवाल के जवाब में अपना लिंक नहीं देना है समझो अगर आप 10 सवाल के जवाब देते हैं तो 3 या 4 ऐसे सवाल होने चाहिए जीन पर आपको लिंक नहीं देना है। अन्यथा आपका अकाउंट स्पैमिंग में आ जाएगा और बंद हो जाएगा।

14) Guest post करें।

Guest post एक ऐसा जरिया है जहां से आप अच्छी खासी ट्रैफिक ला सकते हैं। आप अपने ब्लॉग के नीच से रिलेटेड किसी दूसरे ब्लॉग पर गेस्ट पोस्ट कर सकते हैं जहां से आपको Do-follow backlink भी मिलेगा जो आपके ब्लॉग का DA, PA और Ranking को सुधरेगा लेकिन आप ऐसे ब्लॉग पर ही Guest post करें जो ज्यादा लोकप्रिय ब्लॉग है जिसका DA और PA ज्यादा है।

इस तरीके से आप अपनी साइट को ग्रो कर सकते हैं वह भी बहुत ही कम टाइम में और mostly न्यू ब्लॉगर इसी तरीके का यूज करके अपने ब्लॉग का traffic बढ़ाते हैं और मैं भी ऐसी पॉपुलर साइट पर गेस्ट पोस्ट कर चुका हूं जिसका फायदा मुझे मिला है। गेस्ट पोस्ट से ट्रैफिक तो जरूर बढ़ता है लेकिन साथ ही साथ दूसरे ब्लॉगर से परिचय भी होता है।

नोट: किसी भी साइट पर आपका Content तभी accept किया जाएगा जब आपका Content Unique होगा इस बात का जरूर ध्यान रखें।

15) Post को Update करें।

नई इनफार्मेशन के साथ अपने पुराने आर्टिकल को अपडेट करें। इससे आपका पुराना आर्टिकल नया हो जाएगा और लोग भी पुराने आर्टिकल से ज्यादा फ्रेश आर्टिकल पढ़ते हैं। और सर्च इंजन भी ऐसे ब्लॉग को ज्यादा पसंद करता है जो नई जानकारी के साथ अपने पोस्ट को Update करते रहते हैं और ऐसे ब्लॉग सर्च इंजन में बहुत जल्दी ही रैंक होते हैं। और रैंक होगा तो ट्राफिक तो आएगा ही तो अगर आप अपने Blogging करियर में सफलता हासिल करना चाहते हैं तो आप अपने ब्लॉग को नियमित अपडेट करते रहें।

पोस्ट को अपडेट करने से Google को ऐसा लगेगा कि आपने अपनी पोस्ट में कुछ नई जानकारी जोड़ी है या कुछ पुरानी जानकारी को रिमूव करा है। और जैसे-जैसे समय बदलता है वैसे-वैसे सभी चीज भी बदलती रहती है तो गूगल का भी यही है पुरानी जानकारी को ताजा करो और अपनी पोस्ट की रैंकिग सुधारो, अगर आप अपनी पोस्ट में कोई नई जानकारी नहीं जोड़ सकते फिर भी पोस्ट को अपडेट जरूर करें।

16) Social Media का यूज करें।

आज के टाइम में लगभग सभी यूजर्स सोशल मीडिया के साथ जुड़े हुए हैं। शायद ही कोई होगा जो इसका यूज ना करता हो। सोशल साइट का फायदा यह होता है कि यहां पर traffic बहुत ज्यादा होता है और यहां से आप अपने ब्लॉग वेबसाइट पर भी ट्रैफिक ला सकते हैं। बस आपको सभी सोशल साइट पर अकाउंट बना लेना है जैसे फेसबुक, टि्वटर Linkedin, Pinterest, etc. और अपने blog की सभी पोस्ट की लिंक को इस सोशल मीडिया साइट पर शेयर कर देना है। यहां से आपके ब्लॉग पर बहुत अधिक संख्या में ट्राफिक आ सकता है।

ब्लॉगिंग करने वाले लोगों के लिए यह social media एक ऐसा प्लेटफार्म होता है जहां से बहुत ही आसानी से ट्रैफिक को बढ़ाया जा सकता है। कई सारे लोग ऐसे हैं जिनका मुख्य स्त्रोत सोशल मीडिया ही होता है जहां से वह अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक खिचते हैं। पर ध्यान रहे दिन भर में एक या दो बार ही सोशल साइट पर पोस्ट शेयर करें। अन्यथा आपका पोस्ट लिंक शेयर ब्लॉक हो जाएगा और बाद में आप शेयर नहीं कर पाएंगे।

17) Youtube Channel बनाएं।

आज के टाइम में यूट्यूब में कितना traffic आता है वह तो आपको पता ही होगा जहां से आप अपने ब्लॉग वेबसाइट में ढेर सारा ट्राफिक ला सकते हैं। अगर आप अपने ब्लॉग में यूट्यूब से ट्रैफिक लाना चाहते हैं तो आप अपने ब्लॉग के विषय से related एक यूट्यूब चैनल बनाएं और आपके ब्लॉग पर जितने भी आर्टिकल हैं उन सभी आर्टिकल के ऊपर अलग-अलग वीडियो बना करके अपने Youtube channel पर अपलोड करें और डिस्क्रिप्शन बॉक्स में उस पोस्ट का लिंक दे ताकि उस लिंक के द्वारा आपके ब्लॉग वेबसाइट पर ट्रैफिक आ सके।

यह पोस्ट भी पढ़े
Youtube Se Video Kaise Download Kare (Step by Step जानकारी)
Online Internet से घर बैठे पैसे कैसे कमाए ? - जानिए पैसे कमाने के तरीके

यूट्यूब से आपको अपने ब्लॉग पर Traffic तो मिलेगा ही साथ ही साथ आप यहां से पैसे भी कमा सकते हैं। इसके लिए आप यह आर्टिकल पढ़े यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए?

इसके अलावा अगर आप उस वीडियो को अपने आर्टिकल में लगाते हैं तो search engine में भी आपकी पोस्ट जल्दी रैंक होगी। आपके विजिटर पोस्ट पढ़ने के बाद वीडियो भी देखेंगे जिससे आपके ब्लॉग का बाउंस रेट तो कम होगा साथ ही साथ आपके वीडियो में भी views बढ़ेंगे। और सर्च इंजन भी दृश्य सामग्री को ज्यादा महत्व देता है।

18) दूसरे blog पर Comment करें।

Blog traffic बढ़ाने के लिए यह तरीका भी कुछ हद तक काम आता है। साथ ही साथ यह से आपको No Follow Backlinks भी मिलता है। comments आपको ऐसे ब्लॉक पर ही करना है जो पॉपुलर हो और आपके ब्लॉग के नीच पर हो। कॉमेंट्स करने के लिए आपको उस Website के कमेंट बॉक्स में जाकर वहां पर यूनिक कॉमेंट्स करना है और अपने ब्लॉग या अपने किसी भी ब्लॉग पोस्ट का लिंक शेयर कर देना है। जहां से आपको एक no follow backlinks भी मिलेगा और ट्रैफिक भी मिलेगा।

यहां से जो आपको No follow backlinks मिलता है उससे आपके साइट की अथॉरिटी में भी सुधार होगा और यहां से आपको traffic भी मिलेगा बस आपको यह ध्यान में रखना है कि जिस साइड में आप Comment करें वह साइट हाई क्वालिटी वेबसाइट होनी चाहिए और आपको 1 दिन में 6 या 7 कमेंट ही करना चाहिए।

Conclusion

तो फ्रेंड्स i hope की हमारे द्वारा बताई गई blog pr traffic kaise badhaye की जानकारी आपको समझ में आ गई होगी यहां पर हमने आपको how to increase a website's traffic के बारे में समझाने की कोशिश की है आशा करते हैं यह माहिती आपके लिए यूज़फुल रहेगी। यदि आप ब्लॉगिंग में सफल होना चाहते हैं तो शुरुआत में आपको धैर्य रखना जरूरी हैं, क्योंकि न्यू ब्लॉग में इतनी जल्दी ट्रैफिक नहीं आएगा फिरभी आपको अपने ब्लॉग पर निरंतर काम करते रहना होगा धीरे-धीरे आपके ब्लॉग पर Organic traffic आने लगेगा और आप बहुत सारा पैसा कमा लेंगे जैसे जैसे आपका ब्लॉग पुराना होता जाएगा आपके ब्लॉग में ट्रैफिक बढ़ता जाएगा। बस आपको इस आर्टिकल में बताए गए सभी Points पर सही तरीके से काम करना है आप ब्लॉगिंग में जरूर सक्सेस होंगे।

और मैं यहां पर ऐसे ही नए-नए टॉपिक से जुड़े Information के आर्टिकल शेयर करता रहता हूं तो इसे तूरंत पढ़ने के लिए हमें E-mail से Subscribe करिए और साथ ही साथ अपने सुझाव देने के लिए Comment कीजिए और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा share करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसकि सही जानकारी मिल सके।

धन्यवाद:

यह पोस्ट भी पढ़े
Blog क्या है ? | what is a blog - [Full Guide]
Domain Name Kya hai ? - Domain कितने प्रकार के होते है ? (पूरी जानकारी)

Sunday, December 8, 2019

DP Ka Full Form क्या होता है ?  DP Full Form

DP Ka Full Form क्या होता है ? DP Full Form

dp ka full form - DP Full Form अक्सर यह DP वर्ड हमें सोशल मीडिया साइट जैसे व्हाट्सएप, फेसबुक, इंस्टाग्राम, इत्यादि पर सुनने को मिलता है। खासकर Whatsapp पर इस डीपी शब्द का ज्यादा यूज होता है और आप भी इस dp ki full form के बारे में जानना चाहते होंगे। क्योंकि बार-बार सभी फ्रेंड्स Nice DP, Awesome DP इस तरह के मैसेज एक दूसरे को सेंड करते रहते हैं। पर कुछ लोग इस DP शब्द से अनजान होते हैं। उन्हें। dp ka matlab नहीं पता होता है। तो अगर आप भी इसके बारे में जानना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं।

DP Ka Full Form क्या होता है ?  DP Full Form
DP Ka Full Form - DP Full Form

कुछ दिन पहले जब मैं keyword resource कर रहा था तो मेरे सामने कुछ ऐसे कीवर्ड आये जिनका सर्च ओलियम देखकर मैं हैरान रह गया कि क्या गूगल में लोग यह भी सर्च कर रहे हैं और मैंने सोचा कि dp meaning in hindi में भी एक पोस्ट लिखनी चाहिए जिससे लोगों को इसकी सही जानकारी मिल सके।

अगर देखा जाए तो DP के विभिन्न विषयों के अनुसार कई नाम है जैसे कंप्यूटर विज्ञान के छात्र के लिए dp का मतलब होता है Data Processing इसी तरह ही गणित के छात्रों के लिए dp का अर्थ होता है Dirichlet Process तो इस तरह से डीपी के बहुत से मतलब होते हैं जो सभी लोगों को इसके बारे में समझने की जरूरत भी नहीं है।

लेकिन यहां पर हम जिस DP Full form की बात कर रहे हैं। शायद उसे सभी लोगों के लिए जानना बेहद जरूरी है क्योंकि यहां पर हम बात कर रहे हैं Social Media पर यूज होने वाले DP शब्द की जो आजकल सभी लोग सोशल मीडिया यूज करते हैं। फिर चाहे वह एक छात्र हो, व्यवसायी, या कोई कर्मचारी और इन सभी के लिए इस dp ka matlab एक ही होता है।

DP क्या है ? - What is dp

Whats App, Facebook, insta., Twitter जैसी सोशल मीडिया साइट पर आप जानते ही होंगे कि ईमेल या फ़ोन नंबर से अकाउंट बनाने के बाद आपको फोटो लगाने के लिए कहा जाता है बस यही फोटो जिसे DP कहा जाता है। और उन सभी जगह उपयोग होने वाले profile picture को ही डीपी के नाम से जाना जाता है। लेकिन उनमें से कुछ विख्यात सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के चलते ही आज प्रोफाइल पिक्चर को हम Dp कहने लगे हैं। तो अब dp kya hota hai यह आप समझ गए होंगे।

और DP हम इसीलिए लगाते हैं ताकि सामने वाला हमें पहचान सके और डीपी देख कर पहचानने में जीतनी आसानी होती है इतनी नाम, यूजरनेम ओर ईमेल से पहचानना थोड़ा बहुत कठिन हो सकता है

DP का Full Form - Full Form Of DP

आमतौर पर dp ka full form kya hai पूछने पर जवाब मिलता है Desktop Picture लेकिन हम जिस विषय के बारे में बात कर रहे हैं उस हिसाब से यह रॉन्ग dp full form होता है।

जबकि DP का सही Full Form होता है “Display Picture” जो सोशल मीडिया पर उपयोग होने वाले फोटो को डीपी के नाम से जाना जाता है। तो यहां पर dp ka full form होता है “Display Picture”

यह पोस्ट भी पढे⤵
AM and PM full form in hindi
Email और Gmail में क्या अंतर (Difference) है ?

सोशल मीडिया में आजकल सभी लोग एक दूसरे से बात करते वक्त लंबे शब्दों को छोटा करके लिख देते हैं। जैसे okay को ok या k, वैसे Good Morning को GM, Good Night को GN, Please को Plz, Profile Picture को PP और इस तरह से Display Picture को "DP" लिख देते हैं। इस तरह से लंबे शब्दों को छोटा करके लिख देते हैं। क्योंकि इस तरह से लिखने से हमारा कुछ समय भी बचता है और सामने वाला समझ भी जाता है।

Display Picture का मतलब इसके नाम से ही पता चलता है। Display अर्थात दिखाना यानी कि आपने जिस फोटो को DP में रखा है वह दूसरे लोगों को दिखाई देगी।

DP की शुरुआत :

अब हम जानते हैं कि आखिर ये dp शब्द सोशल मीडिया में कैसे आया तो मैं आपको बता दूं कि यह शब्द सोशियल मीडिया यूज करने वाले लोगों के द्वारा ही बनाया गया है। ना कि यह किसी की किताब में लिखा हुआ है और ना ही यह किसी का आविष्कार है।

जब DP शब्द नहीं था तब सोशल मीडिया साइट के किसी यूज़र के प्रोफाइल में लगी फोटो को Profile Picture के नाम से जानते थे। लेकिन समय के साथ-साथ सब कुछ बदलता है और कुछ नया भी आता है। इसी तरह सोशल मीडिया में एक और नाम जुड़ गया जिसका नाम था Whatsapp यहां पर भी लोग अपनी प्रोफाइल पिक रखने लगे और जल्दी-जल्दी बदलने भी लगे। और लोग उस प्रोफाइल पिक्चर के बारे में अपने फ्रेंड का विचार जानने के लिए एक दूसरे को मैसेज करने लगे और धीरे-धीरे लोग प्रोफाइल पिक्चर को शॉर्टकट में DP ( Display picture) बोलने लगे। और आज लगभग सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के प्रोफाइल पिक्चर को DP के नाम से ही जाना जाता है। हालांकि व्हाट्सएप से पहले फेसबुक में भी डीपी शब्द का यूज होता था लेकिन बहुत कम.

DP के प्रकार - Type Of DP

DP मतलब profile में लगाया हुआ यूजर का फोटो। फिर चाहे वह कोई भी सोशल मीडिया में लगाया हो। लेकिन अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म में DP का मतलब यानी डीपी नाम अलग होता है क्योंकि अलग नाम होगा तभी हमें पता चलेगा कि कौन से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के DP की बात हो रही है।

अगर हम whatsapp dp full form की बात करें तो whatsapp profile में लगाया हुआ प्रोफाइल फोटो को whatsapp DP ( Display Picture ) कहा जाता है, वैसे ही facebook के लिए facebook DP, intagram के लिए instagram DP या insta DP, twitter के लिए twitter DP ऐसे ही अलग प्लेटफार्म के लिए DP का मतलब भी अलग होता है।

क्योंकि DP के साथ उस सोशल मीडिया का नाम आ जाने से हमें यह आसानी से समझ में आ जाता है कि कौन से सोशल मीडिया प्लेटफार्म की बात हो रही है। क्योंकि अगर कोई आपसे कहेगा यार तेरी DP क्या मस्त है और आप कंफ्यूज हो जाएंगे कि यह कौन सी वाली डीपी की बात कर रहे हैं क्योंकि आप तो whatsapp, facebook, twitter, instagram सभी सोशल मीडिया का यूज कर रहे हैं।

जबकि कोई आपसे कहेगा कि यार तेरी whatsapp DP क्या मस्त है तो आप को समझने में आसानी रहेगी कि यह कौन सी डीपी की बात कर रहा है

DP कैसे बनाते हैं ?

सोशल मीडिया पर DP में ज्यादातर लोग अपनी खुद की फोटो ही लगाते हैं। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अपनी फोटो के बजाय कोई और दूसरी फोटो को भी लगाते हैं क्योंकि सबकी अपनी अपनी पसंद

वही कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो एडिटिंग करना जानते हैं। वह अपने फोटो को एडिट करके एक बढ़िया लुक की DP तैयार करके लगाते हैं ताकि वह अपने फोटो में पहले से खूबसूरत लगे।

DP बनाने के लिए आपको ऐसे बहुत सारे best photo editor app for android के लिए मिल जाएंगे जिसकी सहायता से आप अपनी फोटो को एक बढ़िया लुक दे सकते हैं। साथ ही साथ अलग-अलग तरह के फिल्टर का यूज करके एक सुंदर डीपी तैयार कर सकते हैं। तो फ्रेंड्स अब आपको [dp meaning] की पूरी जानकारी समझ में आ गई होगी तो अब हम DP के कुछ फायदे जान लेते हैं।

DP के फायदे :

dp full form in hindi के बारे में हमने आपको बताया अब हम डीपी लगाने के कुछ फायदे जानेंगे जो नीचे बताए गए points के द्वारा आप बहुत ही इजी तरीके से जान सकेंगे।

  1. DP के जरिए आप किसी को भी देखकर पहचान सकते हैं।
  2. DP उपयोग करके आप अपनी तस्वीर को अधिक से अधिक लोगों के पास फैला सकते हैं।
  3. DP रखने से एक और फायदा यह होता है कि सोशल मीडिया पर आपका कोई दोस्त आपको आसानी से ढूंढ सकता है
  4. सोशल मीडिया साइटों पर नाम से किसी को पहचानना मुश्किल है। क्योंकि एक ही नाम के बहुत सारे लोग होते हैं इसीलिए उसके प्रोफाइल में अगर डीपी लगा हो तो उसे पहचानना आसान होता है।

DP कैसे change करें ? (How To Change DP)

हमने आपको dp full form in whatsapp के बारे में तो बता दिया। लेकिन आप यहां पर कुछ सीखने आए हैं तो यह मेरा कर्तव्य बनता है कि मैं आपको कुछ अतिरेक सिखाऊँ। तो अब मैं आपको यहां पर whatsapp dp kaise change kare इसके बारे में पूरी जानकारी दूंगा। हालाँकि यह ज्यादातर लोगों को पता ही होगा लेकिन अभी भी बहुत से लोग ऐसे हैं जिनको यह नहीं पता।

यह पोस्ट भी पढे⤵
Whatsapp New Sticker कैसे Downlod करें ?
WhatsApp Send Message Delete कैसे करें ?

अगर बात करें DP change करने की तो यह सभी विभिन्न सोशल मीडिया पर डीपी बदलने का तरीका भी अलग रहता है। लेकिन आपको टेंशन लेने की जरूरत नहीं है यहां पर मैं आपको whatsapp DP change करने की शैली बताऊंगा उस हिसाब से आप उन सभी सोशल मीडिया का DP बहुत इजी तरीके से चेंज कर सकते हैं। क्योंकि सभी का तरीका लगभग एक समान ही रहता है। तो चलिए जानते हैं whatsapp dp in hindi में पूरी जानकारी।

WhatsApp DP कैसे change करें ?

सबसे पहले आपको अपना WhatApp ओपन कर लेना है।

WhatApp ओपन करने पर आपको ऊपर की तरफ राइट साइड में three dot दिखाई देंगे आपको उसी पर क्लिक कर लेना है। क्लिक करते ही आपको कई सारे ऑप्शन दिखाई देंगे पर आपको लास्ट वाले Settings के ऑप्शन पर क्लिक करना है।

यहां पर आपको सबसे पहले यानी ऊपर की तरफ जिस नाम से आईडी बनाया है वह नाम और डीपी लगाने का आइकॉन दिखाई देगा।

यहां पर आप नाम या व्हाट्सएप डीपी के आइकॉन दोनों में से कहीं पर भी क्लिक कर ले। क्लिक करने पर आपका profile ओपन हो जाएगा।

यहां पर आपको Name, About, Phone और सबसे ऊपर DP का आईकॉन दिखाई देगा। तो आपको ऊपर के डीपी वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है या तो व्हाट्सएप डीपी आइकॉन के साथ में छोटा सा कैमरे का आइकॉन दिखेगा उस पर क्लिक कर ले

अब ऊपर पे pen के आइकॉन पर क्लिक करके अपने फाइल से वह फोटो सिलेक्ट करें जिसे DP बनाना चाहते हैं और फिर ok करें।

यहां से आपको उस फाइल में जाने का ऑप्शन मिलेगा जहां पर आपने उस फोटो को रखा है अपनी डीपी बनाने के लिए। तो उस फोटो को सिलेक्ट कर ले और ok पर क्लिक कर दे और क्रॉप करके पुष्टि करें आपका डीपी बदल जाएगा।

Conclusion

तो फ्रेंड्स i hope कि अब आपको जानकारी मिल गई होंगी कि dp ka full form क्या है. यहां पर हमने आपको dp ki full form और पूरा dp meaning के बारे में समझाने की कोशिश की है। आशा है यह माहिती आपके लिए यूज़फुल रहेगी। और मैं यहां पर ऐसे ही नए-नए टॉपिक से जुड़े Information के आर्टिकल शेयर करता रहता हूं तो और अगर आप ऐसे ही दूसरे पोस्ट पाना चाहते है तो हमें E-mail से Subscribe करिए और साथ ही साथ अपने सुझाव देने के लिए Comment कीजिए और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा share करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसकि जानकारी मिल सके।

धन्यवाद:
Youtube से पैसे कैसे कमाए ? | जानिए पैसे कमाने के तरीके

Youtube से पैसे कैसे कमाए ? | जानिए पैसे कमाने के तरीके

क्या आप जानते है Youtube se paise kaise kamaye हेलो फ्रेंड्स स्वागत है आपका hindi help zone ब्लॉग में और अगर आप भी इसके बारे में जानना चाहते हैं तो आप सही ब्लॉग में विजिट हुए है

क्योंकि आज हम आपको बताएंगे paise kamane ke tarike जो आपके लिए काफि हेल्पफूल रहेंगे

आज के टाइम में कई लोग यूट्यूब से लाखों रुपए तक की कमाई कर रहे हैं यह बात एकदम सही है इस बारे में आपको पता ही होगा

इसीलिए अब आप भी इस paisa kamane ke tarike के बारे में जानने के लिए उत्सुक होंगे कि यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए जाते हैं

Youtube से पैसे कैसे कमाए ? - जानिए पैसे कमाने के तरीके
YouTube से पैसे कैसे कमाए

यूट्यूब एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां हर रोज हजारों लाखों videos published होते हैं और यह सब करते हैं आपके और हमारे जैसे लोग जिनका केवल मात्र ध्येय रहता है अपने चैनल Youtube से पैसे कमाना

अगर आप भी जानना चाहते हैं कि वे लोग Youtube से पैसे कैसे कमाते हैं तो आपको इस आर्टिकल में Youtube से पैसे कमाने की पूरी जानकारी मिलेगी

तो आप हमारे इस आर्टिकल को लास्ट तक पूरा पढ़िए जिससे कि आप यूट्यूब से पैसे कमाने के सभी तरीकों के विषय में जान सके।

यूट्यूब से पैसे कमाने के बारे में जाने उससे पहले हम यूट्यूब के बारे में थोड़ी और जानकारी समझ लेते हैं

जैसे कि youtube क्या है इसके फीचर क्या है यह कैसे काम करते हैं जिससे आपको यूट्यूब से पैसे कमाने के तरीके को समझने में आसानी होगी

 1 - Youtube क्या है ?

यूट्यूब दुनिया का दूसरे तीसरे नंबर का मोस्ट पॉपुलर सर्च इंजन है जहां हर दिन हजारों लाखों लोग अपने काम के videos देखते हैं और उनसे कुछ सीखते हैं

इसे हम वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म भी कह सकते हैं क्योंकि यहां पर लोग अपने वीडियोस अपलोड करते हैं और यह कोई भी व्यक्ति कर सकता है यह बिल्कुल फ्री है

यूट्यूब गूगल का ही एक प्रोडक्ट है और जिस तरह गूगल के अन्य प्रोडक्ट आपके मोबाइल में अवेलेबल होते हैं उसी तरह ही यह प्रोडक्ट भी आपके मोबाइल में आपको मिल जाता है इसी वजह से YouTube के विडीयो दूसरे इंटरनेट प्लेटफार्म के मुकाबले बहुत जल्दी वायरल होते हैं

आप यूट्यूब पर तभी वीडियो अपलोड कर सकते हैं जब आपके पास अपना यूट्यूब चैनल होगा। तो इसके लिए आपको अपना एक यूट्यूब चैनल बनाना होगा

2 - Youtube कैसे काम करता है ?

जैसे मैंने आपको पहले बताया यूट्यूब दुनिया की 2-3 नंबर की मोस्ट पॉपुलर वेबसाइट है। और यहां पर आप अपने Videos को सर्च रिजल्ट में जितना, सबसे ऊपर ला सको उतना आपको ज्यादा फायदा मिलता है इसके लिए आप keyword का यूज कर सकते हैं और उस कीवर्ड को आप अपने टाइटिल, टैग, और डिस्क्रिप्शन में लगा सकते हैं

यूट्यूब एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जो वीडियो को खुद ही प्रमोट करता है। For Exampal: अगर आप किसी हेल्थ के बारे में videos देखते हो तो आपको उस से रिलेटेड कई सारी वीडियो recommended की जाती है।

Youtube से Video कैसे Download करें ?

आपने यूट्यूब पर वीडियो देखते वक्त यह जरूर नोट किया होगा जो हर यूट्यूबर बोलता है आप हमारे चैनल को सब्सक्राइब जरूर करें वह इसीलिए की वीडियो पर ज्यादा views आना किसी चैनल के सब्सक्राइबर पर भी डिपेंड रहता है और वीडियो पर व्यूज बढ़ाना भी जरूरी होता है क्योंकि जितने ज्यादा व्यूज उतना ज्यादा आपको फायदा।

यूट्यूब subscriber के आधार पर वर्क करता है। जिस चैनल के जितने ज्यादा सब्सक्राइबर उतनी ही उनकी वीडियो ज्यादा वायरल होगी और जितनी ज्यादा वायरल होगी उतने ज्यादा व्यूज जाएंगे

3 - Online पैसे कमाने के लिए YouTube को ही क्यों चूने

अब आप सोच रहे होंगे कि घर बैठे काम करके पैसे कमाने के तरीके तो बहुत है तो हम यूट्यूब में क्यों जाए फ्रेंड्स इंटरनेट पर बहुत सारे ऐसे काम है जिससे आप अपने तरीके से अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं ऑनलाइन पैसे कमाने के लिए आप प्रामाणिकता और अपने धेर्य पर टिके रहते हैं तो आपको इंटरनेट के वर्ल्ड में सक्सेसफुल होने में देर नहीं लगेगी। उनमें से यूट्यूब पहले नंबर का पैसा कमाने का तरीका है

अगर हम इंडिया की बात करें तो आज के टाइम में यूट्यूब का क्रेज यंग जनरेशन में बहुत है और सभी लोगों में यूट्यूबर बनने की इच्छा होती है। इसकी मुख्य वजह होती है यूट्यूब के कुछ ऐसे फिचर जो आपको किसी और प्लेटफार्म पर नहीं मिलेंगे। जिनमें से कुछ फीचर के बारे में हम आपको यहां बताएंगे जो कुछ इस प्रकार से है

1 - Youtube एक आसान Platform
2 - You Tube एक Free Platform
3 - YouTube में अधिक मात्रा में visitors

1 - Youtube एक आसान Platform

अगर हम Internet से पैसे कमाने के तरीके के बारे में बात करें तो दूसरों की तुलना में यूट्यूब से पैसे कमाना बहुत आसान है उदाहरण के लिए अगर आप ब्लॉगिंग करना चाहते हो और चाहे वह ब्लॉगर पर हो या वर्डप्रेस पर तो उसके लिए आपको डोमेन और होस्टिंग की जरूरत पड़ती है इसके अलावा आपको कंटेंट लिखना पड़ता है वह भी यूनिक जो आजकल इतना आसान नहीं है

अगर हम यूट्यूब की बात करें तो यह दूसरों की तुलना में बहुत ही आसान है बस आपको अपनी जीमेल आईडी से लोगिन कर लेना है और अपना चैनल बना लेना है। नहीं डोमेन नेम और वेब होस्टिंग की आवश्यकता है

यहां पर आप बहुत ही आसानी से एक यूनिक वीडियो बना सकते हैं जो ब्लॉगिंग में यूनिक कंटेंट लिखने की तुलना में आसान है

यूट्यूब से घर बैठे पैसे कमाने के लिए गूगल ऐडसेंस अप्रूवल पाना बेहद जरूरी होता है जो ब्लॉग की तुलना में बहुत ही आसान है। बहुत सारे ऐसे ब्लॉगरस है जिनको गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल मिलने में महीनों लग जाते हैं लेकिन यूट्यूब में यह काम जल्द ही हो जाता है

2 - You Tube एक Free Platform

ऑनलाइन  इंटरनेट पैसे कमाने के तरीके तो बहुत है लेकिन blogging से पैसे कैसे कमाए और यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए इन दोनों के बारे में लोग ज्यादा सर्च करते हैं क्योंकि आजकल यह दोनों ज्यादा फेमस है

अगर आप ब्लॉगिंग के फील्ड में जाते हो और अगर आप वर्डप्रेस या अन्य किसी प्लेटफार्म पर ब्लॉग स्टार्ट करते हो तो आपको Domain Name और Web Hosting के लिए पैसे चुकाने पड़ते हैं। और अगर हम यूट्यूब की बात करे तो यह एक फ्री प्लेटफार्म है

यहां पर आपको किसी भी तरह का कोई खर्चा नहीं करना पड़ेगा बस आपको यूट्यूब से पैसे कमाने के लिए एक जीमेल आईडी की आवश्यकता होती है जिनके द्वारा आप लॉगिन करके यूट्यूब चैनल क्रिएट कर सकते हैं और उसमें वीडियो अपलोड कर के घर बैठै काम करके यूट्यूब से पैसे कमा सकते हैं

यूट्यूब ऑनलाइन पैसे कमाने का एक ऐसा फ्री तरीका है जो अपनी सभी सर्विस हमें मुफ्त में प्रदान करता है हमें इनके किसी भी सर्विस के लिए पैसे नहीं चुकाने पड़ते।

इसकी तुलना में अगर हम दूसरे पैसा कमाने के तरीके के बारे में कहे तो वहां पर आपको लगभग कभी कुछ ना कुछ पैय करना ही पड़ता है लेकिन यूट्यूब अपनी सभी सेवा के लिए हमसे एक भी पैसा नहीं लेता।

3 - YouTube में अधिक मात्रा में visitors मिलते हैं

ब्लॉग में विजिटर्स को बढ़ाना मुश्किल काम है लेकिन यूट्यूब में यह काम आपका इजली हो जाता है। आपके द्वारा अपलोड किया हुआ वीडियो तुरंत ही हजारों लाखों लोगों तक पहुंच जाता है

और अगर आप का वीडियो एट्रेकटिव हुआ तो आप सोर्ट टाइम में यूट्यूब में अपना नाम भी बना सकते हो जो ब्लॉगिंग के फील्ड में ऐसा करने में महीनों बीत जाते हैं

Youtube से पैसे कैसे कमाए ? - जानिए पैसे कमाने के तरीके
Youtube से पैसे कैसे कमाए

4 - you tube से पैसे कैसे कमाए ?

यूट्यूब से पैसे कमाना हरेक यूट्यूबर पर का सपना होता है पहले यह थोड़ा मुश्किल था क्योंकि तब इंटरनेट के दाम इतने महंगे थे कि इंटरनेट का यूज बहुत कम लोग करते थे

लेकिन जब से Jio आया है तब से इंटरनेट का यूज ज्यादा होने लगा है क्योंकि इंटरनेट के प्लान भी सस्ते हुए हैं और साथ ही साथ इंटरनेट की स्पीड में भी सुधार हुआ है इससे फायदा यह हुआ है कि वीडियो देखने वालों की संख्या बढ़ी है जिससे यूट्यूबर के वीडियो में व्यूज ज्यादा मिलने लगे और जितने ज्यादा व्यूज मिलते हैं उतना ही ज्यादा पैसा भी मिलता है

और इस फील्ड में ज्यादा पैसा मिलने के कारण आजकल लोग यूट्यूब से पैसा कमाने की ओर जा रहे हैं। तो चलिए जानते हैं Youtube Se Paise Kaise Kamaye इसके लिए पहले क्या करें

1 - अपना Youtube Channel बनाएं
2 -अपना Video Content Upload करें
3 - अपने viewers को बढ़ाएं
4 - अपने Videos को Monetize करें

1 - अपना Youtube Channel बनाएं

यूट्यूब से पैसे कमाने के लिए आप पहले अपना एक यूट्यूब चैनल बनाए। यह ऐसी जगह है जहां आप अपने वीडियोस को कंटेंट के रूप में अपलोड कर सकते हैं।

यह गूगल का प्रोडक्ट होने की वजह से आपको एक ईमेल आईडी की जरूरत पड़ेगी जिसके जरिए आप लोगइन होकर यहां अपना अकाउंट बना सकते हैं

यूट्यूब चैनल बनाने से पहले आपको एक नीच यानी विषय (Topic) पसंद कर लेना है जिस पर आप काम करना चाहते हैं।

जिस विषय में आपको ज्यादा इंटरेस्ट है उस पर ही आप अपना चैनल बनाएं और उस प्रकार ही अपने चैनल का नाम रखें जो ज्यादा लंबा ना होकर छोटा और यूनिक हो जिससे आपके यूजर्स को याद रखने में आसानी हो

2 - अपना Video Content Upload करें

अब आपको अपने उस चैनल में वीडियो अपलोड करने हैं लेकिन आप यहां पर एक बात पर जरूर सावधानी बरते कि आप जो भी वीडियो अपलोड करें वह यूनिक आपका ओरिजिनल और सबसे अच्छी गुणवत्ता वाला वीडियो होना चाहिए।

अगर आप दूसरों का कॉपीराइट वीडियो अपलोड करते हैं तो आपका चैनल बंद भी हो सकता है इस पर आप पैसे नहीं कमा सकते हैं तो इस बात का आपको जरूर ध्यान रखना है

नोट्स: आप वीडियो बनाने के लिए जो भी फोटो या म्यूजिक यूज करें वह कॉपीराइट फ्री वाला ही यूज़ करें

google से copyright free images कैसे download करे ?

ज्यादा लंबा वीडियो ना डालें क्योंकि लोग ज्यादा लंबा वीडियो देखना कम पसंद करते हैं। लोग वही वीडियो ज्यादा देखना पसंद करते हैं जो ज्यादा लंबा ना होकर छोटा यूनिक और हाई क्वालिटी का हो।

अगर वीडियो की लेंथ ज्यादा लंबी हो रही हो तो आप उसे 2-3 भाग में बनाकर के उन सभी पार्ट को अलग-अलग अपलोड कर सकते हो

3 - अपने viewers को बढ़ाएं

यहां अगर आप नियमित तौर पर टाइम टू टाइम अपने वीडियोस को अपलोड करते हो तो आप अपनी viewers को बनाए रखने में कामयाब रहते हो क्योंकि यूट्यूब से जो कमाई होती है वह व्यूवर्स के ऊपर ही निर्धारित होती है

आपके व्यूवर्स कम होने का आपकी इनकम पर भी इफेक्ट पड़ेगा तो आप अपने viewers को बढ़ाएं और उसे बनाए रखें

व्यूवर्स को बढ़ाने के लिए आप अपने वीडियो को सोशल नेटवर्किंग साइट पर शेयर करें जैसे फेसबुक, व्हाट्सएप, पिनटेरेस्ट, ट्विटर इत्यादि।

वीडियो देखने के बाद कुछ viewers के सवाल होते हैं जो वह कॉमेंट के द्वारा पूछते हैं उनका जवाब आप जरूर दें और हो सके तो उन सवालों के ऊपर आप वीडियो बना करके अपलोड करें इसका इफेक्ट आपके व्यूवर्स पर पड़ेगा जिससे वह आप के साथ बने रहेंगे

4 - अपने Videos को Monetize करें

आप अपने वीडियो से पैसे भी कमा सकते हैं जब आप उन्हें Monetize करेंगे यानी कि आपको यूट्यूब को यह बताना पड़ेगा कि आप हमारे वीडियो परे एड दिखाइए

अपने चैनल को मोनीटाइज करने से पहले आपको कुछ स्टेप का पालन करना पड़ेगा यानी कि यूट्यूब monetization की न्यू पॉलिसी के अधीन आपको अपने वीडियो पर 4000 hours का watch time 1 साल के अंदर कंप्लीट करना होगा इसके अलावा आप के चैनल पर 1000 subscribers होने चाहिए।

इन शर्तों और नियमों का पालन करके आप अपने चैनल के लिए मोनेटाइजेशन ऑन कर सकते हैं

पहले क्या होता था कि आप के वीडियो पर कोई views आए या ना आए सब्सक्राइबर है या नहीं है इस से कोई भी फर्क नहीं पड़ता था। फिर भी आप मोनेटाइजेशन ऑन कर सकते थे लेकिन अब न्यू पॉलिसी के अंतर्गत यह रूल्स बदल गए है

तो अब आपको न्यू पॉलिसी के अंदर ही काम करना पड़ेगा तभी आप यहां से पैसे कमा सकते है

अपने चैनल को मोनीटाइज करने के लिए यूट्यूब के Creator Studio पर जाने के बाद Status and features पर जाएं यहां से आप मोनेटाइजेशन ऑप्शन को ऑन कर दे

Youtube से पैसे कैसे कमाए ? - जानिए पैसे कमाने के तरीके
YouTube से पैसे कमाने के तरीके

5 - You tube से पैसे कमाने के तरीके

ऊपर हमने आपको यूट्यूब के बारे में विस्तार से समझा दिया है और यह भी बताया कि यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए जाते हैं

अब हम आपको youtube से पैसे कमाने के तरीके बताने जा रहे हैं कि आखिर हमें यूट्यूब से पैसे कैसे मिलते हैं, यूट्यूब हमें पैसे कैसे देता है तो चलिए समझते हैं यह तरीके जो कुछ इस प्रकार से है

1 - Google adsense
2 - Affiliate Marketing
3 - Sponsored Video

1 - Google adsense

सभी यूट्यूबर कि Google adsense के जरिए ही यूट्यूब से इनकम होती है इसी तरह अगर आप लोग भी youtube से कमाई करनी है तो अपने चैनल को गूगल एडसेंस से मोनीटाइज कर लेना है और जैसे-जैसे आपकी वीडियो को ज्यादा लोग देखते जाएंगे वैसे वैसे आप पैसे कमाते जाएंगे

और यहां से कमाए हुए पैसे आप गूगल ऐडसेंस अकाउंट से अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकेंगे।

2 - Affiliate Marketing

Affiliate Marketing के जरिए आप एक अच्छी खासी इनकम जनरेट कर सकते हैं अगर आपको Affiliate Marketing के बारे में नहीं पता तो मैं आपको बता दूं कि यह कंपनीया ऑनलाइन सामान बेचने का काम करती हैं जैसे फ्लिपकार्ट, अमेजॉन, स्नैपडील, आदि

अब अगर आप इन कंपनियों के प्रोडक्ट को सेल कराते हैं तो यह कंपनी आपको कमीशन के तौर पर पैसे देते हैं

इसके लिए आपको Affiliate Program में Join करना पड़ता है ज्वाइन करने के बाद आप इस कंपनी के जिस प्रोडक्ट को sell कराना चाहते हैं उसका एक Affiliate link क्रिएट करें।

इसके बाद आप उस प्रोडक्ट के लिंक को अपने वीडियो के नीचे डिस्क्रिप्शन बॉक्स में लगा दे अब अगर कोई भी इस लिंक पर क्लिक करके उस सामान को खरीदेगा तो उसके लिए आपको पैसे मिलते हैं

3 - Sponsored Video

इस तरह के वीडियो से अगर आप पैसे कमाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पहले अपने चैनल को पॉपुलर बनने तक इंतजार करना पड़ेगा

जैसे ही आपके चैनल की popularity बढ़ेगी उसके साथ ही स्पॉन्सरशिप के लिए स्पॉन्सर्स संपर्क करने लगेंगे और आपको स्पॉन्सरशिप मिलने लगेगी और उसके ऐड आप अपने चैनल पर दिखा करके उनसे पैसे कमा सकते हैं

तो यह भी एक उचित way है यूट्यूब से पैसे Earn करने का

हमने यहां पर आपको यूट्यूब से पैसे कमाने के तरीके जो बताएं है इनमें से ज्यादा यूज होने वाला गूगल ऐडसेंस ही है यह मुख्य स्रोत है, यहीं से ही सभी युटयुबर्स ज्यादा पैसा कमाते हैं

You tube से पैसे कमाने से रिलेटेड कुछ सवाल जो अक्सर पूछे जाते हैं {FAQs}

सभी बिगनर लोग यूट्यूब से पैसे कमाना तो चाहते हैं लेकिन उसके मन में यूट्यूब से पैसा कमाने से रिलेटेड बहुत सारे प्रश्न भी होते हैं

इसीलिए ऐसे लोगों के लिए यू ट्यूब से पैसा कमाने के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न (FAQs) के बारे में हम जानेंगे जिससे की आपको कुछ हेल्प मिलेगी

Q. 1  - यूट्यूब पर अकाउंट कैसे बनाएं ?

यूट्यूब पर अकाउंट बनाना बेहद सिंपल है यूट्यूब पर अकाउंट बनाने के लिए आपके पास एक जीमेल आईडी होनी चाहिए और उस जीमेल आईडी से लोगिन करने के बाद कुछ प्रोसेस खो फोलो करते ही आपका अकाउंट बन जाएगा

Q. 2 - यूट्यूब से कितनी कमाई होती है ?

यूट्यूब से कितनी कमाई होती है या फिर यूं कहें कि यूट्यूब से कितने पैसे मिलते हैं यह सवाल ज्यादातर पूछा जाता है तो फ्रेंडस यह डिपेंड करता है आपके चैनल के पॉपुलारिटी के ऊपर जितना बड़ा आपका चैनल उतनी ज्यादा आपकी कमाई यहां से लोग हजारों, लाखों या उससे ऊपर तक भी कमा रहे हैं

Q. 3 - यूट्यूब १००० व्यूज का कितना पैसा कमाना देता है ?

यह बात 100% सही कोई नहीं बता सकता कि (यूट्यूब 1000 व्यूज का कितना पैसा देता है यह बात बहुत सारे भागों में विभाजित होती है जी हां यह डिपेंड करता है आप पर

हालांकि एक अनुसंधान के accordingly आपकी 1000 views से औसत ₹100 तक की कमाई हो जाती है हालांकि यह सब डिपेंड करता है Content, Visitors, Ads Clicks, Per Click Rate, etc.

Q. 4 - जियो फोन में यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए ?

आज-कल लोग अपने फोन से भी यूट्यूब से पैसे कमाते हैं वैसे ही आप भी अपने जियो फोन से कमा सकते हो इसमें कोई अलग प्रोसेस नहीं होता है सभी फोन में सेम प्रोसेस ही होती है

Conclusion

तो फ्रेंड मुझे पूरी उम्मीद है कि आप अच्छी तरह से समझ गए होगेकि YouTube से पैसे कैसे कमाए, YouTube से पैसे कमाने के तरीके कया है।

और अगर आप ऐसे ही दूसरे पोस्ट पाना चाहते है तो हमें E-mail से Subscribe करिए और साथ ही साथ अपने सुझाव देने के लिए Comment कीजिए और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा share करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसकि जानकारी मिले।

Wednesday, November 13, 2019

Youtube Se Video Kaise Download Kare (Step by Step जानकारी)

Youtube Se Video Kaise Download Kare (Step by Step जानकारी)

youtube se video kaise download kare क्या आपको इसके बारे में जानकारी है अगर आप इसके बारे में जानना चाहते हैं तो आप सही जगह पर आए हैं। क्योंकि यहां पर हम आपको समझाने वाले हैं कि youtube से video कैसे download करें

youtube se video download kaise kare
youtube se video download kaise kare

Youtube पर प्रतिदिन नए-नए वीडियो आते रहते हैं और हम उस यूट्यूब वीडियो को हर रोज देखते रहते हैं और हमारे मन में यह सवाल आता है कि हम youtube se video download kaise kare क्योंकि उसमें कुछ ऐसे वीडियो भी होते हैं जो हमें पसंद होते हैं या हमारे काम के होते हैं। उसको बार-बार ऑनलाइन देखना हमें थोड़ा परेशान करता है।

इसीलिए आप भी youtube ki video kaise download kare इसके बारे में जानने के लिए उत्सुक होंगे क्योंकि हर वक्त और हर जगह पर नेटवर्क अच्छा नहीं होता है तो आप ऐसे काम के videos download करके ऑफलाइन देखना पसंद करेंगे। जिसे आप बगैर कोई परेशानी के बड़े आराम से कहीं भी किसी भी वक्त देख सकते हैं।

यूट्यूब पर वीडियो आप मनोरंजन के लिए भी देख सकते हैं और कुछ नया सीख भी सकते हैं। jio के चलते इंटरनेट के दाम कम होने की वजह से आज के टाइम में यूट्यूब का पहले से ज्यादा यूज होने लगा है और इसी के चलते यूट्यूब एक ऐसा प्लेटफार्म बन चुका है जहां पर आपको हर एक टॉपिक पर वीडियो मिल जाता है जो आप देखना चाहते हैं। तो आज हम Youtube से videos download कैसे करें step by step इसकी जानकारी देंगे।

यह पोस्ट भी पढ़े⤵
Youtube से पैसे कैसे कमाए ? | जानिए पैसे कमाने के तरीके
☞ Jio Caller Tune कैसे सेट करें ? | How To Set Caller Tune In Jio

अगर देखा जाए तो यूट्यूब को अपने क्रिएटर्स की चिंता रहती है। इसीलिए यूट्यूब ऐसा कभी नहीं चाहेगा कि कोई youtube video download करने के बाद उस वीडियो का गलत तरीके से यूज करें। इसी के चलते ही यूट्यूब में वीडियो सीधा हमारे SD Card में डाउनलोड हो सके ऐसा कोई विकल्प उपलब्ध नहीं है। हां एक विकल्प रहता है लेकिन वहां से आप यूट्यूब के अंदर ही वीडियो डाउनलोड कर सकते हो और वहीं पर ही ऑफलाइन देख सकते हो।

लेकिन ऐसा भी नहीं है कि यूट्यूब से डाउनलोड किया हुआ वीडियो का सभी लोग अनुचित यूज़ करते हैं। किसी को कोई वीडियो अच्छा लगता है या वह उससे कुछ सीखना चाहता है या कोई इंटरटेनमेंट के लिए उस वीडियो को डाउनलोड करना चाहता है लेकिन उसको यह नहीं पता कि youtube video download kaise kare तो आज मैं इसके बारे में कुछ step बताने वाला हूं जिसकी सहायता से आपको youtube से video download करने में आसानी होगी।

Step by Step: Youtube से Video Download कैसे करें ?

यूट्यूब के वीडियो को डाउनलोड करने का बेस्ट और सरल रास्ता है उस यूट्यूब वीडियो के URL में कुछ बदलाव करके। तो चलिए जानते हैं step by step पूरी जानकारी की youtube video kaise download kare

Step1: सबसे पहले आप कोई भी एक ब्राउज़र को ओपन कर लीजिए। अब उस ब्राउज़र के सर्च बॉक्स में Youtube लिखकर सर्च करें और यूट्यूब की वेबसाइट ओपन कर ले। यूट्यूब ओपन होने के बाद जो भी वीडियो आपको डाउनलोड करना है उसे प्ले करें।

Notes: अगर आप मोबाइल से करना चाहते हैं तो आप Youtube site को desktop site में ओपन करें।

youtube se video download kaise kare

Step2: वीडियो प्ले होने के बाद ऊपर सर्च बॉक्स में उस वीडियो का यूआरएल आ जाएगा जैसा कि आप ऊपर स्क्रीनशॉट में देख पा रहे हैं।

youtube se video download kaise kare

Step3: अब उस वीडियो को डाउनलोड करने के लिए आपको उसके URL में कुछ बदलाव करना रहेगा। यानी कि उसी URL के www. और youtube के बीच में ss को जोड़ देना है जैसा कि आप ऊपर स्क्रीनशॉट में देख पा रहे हैं। यह बदलाव करने के बाद फिर से सर्च बटन पर क्लिक कर लेना है।

youtube se video download kaise kare

क्लिक करते ही उस वीडियो के साथ savefrom.net नाम की वेबसाइट खुल जाएगी। जैसा कि आप ऊपर स्क्रीनशॉट में देख पा रहे हैं। जहां पर आप को उस यूट्यूब वीडियो को डाउनलोड करने का ऑप्शन मिल जाएगा। आप अपनी पसंद से उस वीडियो की क्वालिटी पसंद करके डाउनलोड बटन पर क्लिक करते ही डाउनलोड होना स्टार्ट हो जाएगा।

Step4: अगर आपको यूट्यूब वीडियो 1080p में डाउनलोड करना है तो जो आगे हमने आपको प्रोसेस बताएं उसी तरह ही कर लेना है और www. और youtube के बीच में आपको conv को जोड़ के सर्च कर लेना है।
youtube se video download kaise kare

Step5: जैसे ही आप सर्च करेंगे एक नई साइट ओपन हो जाएगी। जैसा कि आप ऊपर स्क्रीनशॉट में देख पा रहे हैं और यहां पर आपको तीन ऑप्शन दिखेंगे Convert to MP3, Convert to GIF, Convert to MP4 आप तीसरा ऑप्शन Convert to MP4 पर क्लिक करके वहां से 1080p सिलेक्ट करके डाउनलोड कर लीजिए।

Step6: अगर आप YouTube Video को MP3 में Download करना चाहते हैं तो आप ऊपर बताई सेम प्रोसेस को फॉलो करके यूट्यूब वीडियो को MP3 में भी बहुत ही आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं। पर जो यूआरएल में बदलाव करके वर्ड को जोड़ना होता है वह वर्ड अलग रहता है बाकी आप ऊपर बताई सेम प्रोसेस को फॉलो कर सकते हैं।

youtube se video download kaise kare

यहां पर आपको www. और youtube के बीच में vd वर्ड को जोड़ के सर्च कर लेना है। और एक नई वेबसाइट ओपन हो जाएगी जैसा कि आप ऊपर स्क्रीनशॉट में देख पा रहे हैं जहां से आप उस Video को MP3 में Download कर सकते हैं।

Step7: इसके अलावा मैं आपको एक और तरीका बताता हूं। जिसके लिए आपको y2mate.com नाम की साइट को ओपन करना है और फिर आप जो भी YouTube Video Download करना चाहते हैं या फिर जीस भी यूट्यूब वीडियो को MP3 में कन्वर्ट करना चाहते हैं उस यूट्यूब वीडियो के URL को कॉपी करके इस साइट के सर्च बॉक्स में पेस्ट कर देना है। जैसा कि आप नीचे स्क्रीनशॉट में देख पा रहे हैं।

youtube se video download kaise kare

Step8: URL को पेस्ट करते ही आपके सामने उस YouTube Video Download करने का ऑप्शन आ जाएगा। जहां से आप अपने हिसाब से वीडियो की क्वालिटी से वीडियो को डाउनलोड कर सकते हैं।

Step9: अगर आप MP3 में डाउनलोड करना चाहते हैं तो आपको mp3 वाले सेक्शन पर क्लिक कर लेना है। जैसा कि ऊपर स्क्रीनशॉट में बताया गया है जहां पर आपको MP3 Download का ऑप्शन मिल जाएगा और आप उस वीडियो को MP3 में भी डाउनलोड कर सकते हैं बहुत ही आसानी से.

Conclusion

तो फ्रेंड्स i hop कि आपको समझ में आ गया होगा कि youtube se video kaise download karen आजकल अधिकतर लोग इसी प्रोसेस को ही फॉलो करके यूट्यूब वीडियो डाउनलोड करते हैं। क्योंकि यह एक आसान प्रोसेस है इससे आपको किसी सॉफ्टवेयर की आवश्यकता नहीं रहती है। आप उस वीडियो के यूआरएल में सिर्फ एक वर्ड को जोडकर यानी उस URL में बदलाव करके आप यह काम बहुत ही आसानी से कर सकते हैं। जहां पर एक न्यू वेबसाइट ओपन होगी वहां से आप अपनी पसंद की लो या हाई क्वालिटी वीडियो बहुत ही आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं। 

Wednesday, October 30, 2019

भारत में कितने जिले हैं ? 2020

भारत में कितने जिले हैं ? 2020

भारत में कितने जिले हैं | bharat me kitne jile hai हर दिन ऐसे ही सवाल लोगों के दिमाग में आते रहते हैं और ऐसे ही सामान्य ज्ञान के संबंध में पूछे जाने वाले सवाल के जवाब आपको आने चाहिए ताकि आपसे कोई पूछे तो आप बेझिझक उसे बता सके। कई बार ऐसी जानकारी स्टूडेंट के लिए लाभदायक होती है क्योंकि इस तरह के सामान्य ज्ञान के सवाल स्कूल के एग्जाम या नौकरी के लिए भी पूछे जा सकते हैं

bharat me kitne jile hai
bharat me kitne jile hai

सभी लोग bharat me kul kitne jile hai के बारे में जानने के लिए उत्सुक होंगे क्योंकि भारत बहुत विशाल देश है और इसमें बहुत सारे राज्य और सभी राज्यों में बहुत सारे जिले आते हैं। विश्व में केवल भारत ही एक ऐसा देश है जहां पर विविध धर्मों के लोग एक साथ भाईचारे का व्यवहार रखते हैं

अगर आप एक छात्र हे तो आपके पास poore bharat mein kitne jile hai की जानकारी होना जरूरी है। इंडिया में 28 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश की संख्या 9 है पर समस्त जिले की संख्या क्या है यह शायद ही कुछ लोगों को पता होगी अगर नहीं भी पता तो कोई बात नहीं hindi help zone के इस आर्टिकल के जरिए आप जान सकेंगे कि भारत में कौन से राज्य में कितने जिले हैं और समस्त जिलों की संख्या कितनी है तो चलिए जानते है।

भारत में कुल कितने जिले हैं ?

मौजूदा टाइम 2020 की अगर हम बात करें तो इंडिया में 726 कुल जिले की संख्या है जिसमें केन्द्र शासित प्रदेश के जिले भी सामिल है। इससे पहले यानी कि 2001 में जिले की यह संख्या 593 थी और 2011 में यह बढ़कर 640 हुई थी इसका मतलब कि मौजूदा टाइम में भारत के जिलों की संख्या में ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। इसीलिए आपको भी इसकी जानकारी होनी चाहिए कि आपके राज्य या तो फिर bharat desh me kitne jile hai और भारत के समस्त राज्यों के अंदर आने वाले सभी जिलों की संख्या कितनी है। तो चलिए जानते हैं प्रत्येक राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के समस्त जिलों के बारे में जो कुछ इस प्रकार से हैं -

भारत के सभी राज्य और टोटल जिले की संख्या

##     State Names Number Of Districts
1 आंध्रप्रदेश (Andra Pradesh) 13
2 अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) 24
3 असम (Assam) 33
4 बिहार (Bihar) 38
5 छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) 27
6 गोवा (Goa) 2
7 गुजरात (Gujarat) 33
8 हरियाणा (Haryana) 22
9 हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) 12
10 जम्मू एंड कश्मीर (Jammu and Kashmir) 22
11 झारखंड (Jharkhand) 24
12 कर्नाटक (Karnataka) 30
13 केरल (Kerala) 14
14 मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) 52
15 महाराष्ट्र (Maharashtra) 36
16 मणिपुर (Manipur) 16
17 मेघालय (Meghalaya) 11
18 मिज़ोरम (Mizoram) 8
19 नागालैंड (Nagaland) 12
20 ओड़िशा (Odisha) 30
21 पंजाब (Punjab) 22
22 राजस्थान (Rajasthan) 33
23 सिक्किम (Sikkim) 4
24 तमिलनाडु (Tamil Nadu) 33
25 तेलंगाना (Telangana) 33
26 त्रिपुरा (Tripura) 8
27 उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) 75
28 उत्तराखंड (Uttarakhand) 13
29 पश्चिम बंगाल (West Bengal) 23

भारत के केंद्र शासित प्रदेश और जिले की संख्या

# केंद्र शासित प्रदेश जिले की संख्या
1 अंडमान और निकोबार (Andaman and Nicobar) - द्वीपसमूह 3
2 चंडीगढ़ (Chandigarh) 1
3 दादरा-नगर हवेली (Dadra-Nagar Haveli) 1
4 दमन और दीव (Daman and Diu) 2
5 लक्षद्वीप (Lakshadweep) 1
6 दिल्ली (Delhi) 11
7 पुदुच्चेरी (Puducherry) 4
8 जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir) 20
9 लद्दाख (Ladakh) 2

भारत के सबसे बड़े जिले

क्षेत्रफल के आधार पर इंडिया का सबसे बड़ा जिला गुजरात राज्य का कच्छ जिला है यह करीब-करीब 45,652 वर्ग किलोमीटर का सबसे बड़ा जिला है

जनसंख्या के base पर इंडिया का सबसे बड़ा जिला महाराष्ट्र राज्य का ठाणे जिला है। इसकी 2011 की जनगणना के आधार पर इस जिले में लोगों का निवास करीब-करीब 11,054,131 है।

भारत के सबसे छोटे जिले

क्षेत्रफल के base पर भारत का सबसे छोटा जिला 'पांडुचेरी' का “माहे” जिला है। यह करीब-करीब 9 वर्ग किलोमीटर में फैला सबसे छोटा जिला है

जनसंख्या के base पर अरुणाचल प्रदेश का "अपर दिबांग वैली" इंडिया का सबसे छोटा जिला माना जाता है। 2011 की जनगणना के आधार पर यह जिले में लोग निवास केवल 7,948 है। हालांकि क्षेत्रफल के base पर इस राज्य का यह सबसे बड़ा जिला माना जाता है जो करीब-करीब 9,129 वर्ग किलोमीटर का है

तो फ्रेंड्स i hope कि अब आपको जानकारी मिल गई होगी कि 2019 में pure bharat mein kitne jile hai यहां पर हमने आपको इंडिया के प्रत्येक राज्य तथा केंद्र शासित प्रदेशों में शामिल कुल जिलों के बारे में बताया। आशा है यह माहिती आपके लिए यूज़फुल रहेगी। आपको बता दें कि यह जानकारी इंटरनेट से रिसर्च करके ली गई है जो 100% सही या गलत भी हो सकती है। तो ज्यादा जानकारी के लिए आप गूगल का सहारा ले सकते हैं 

Friday, October 11, 2019

AM और PM का मतलब क्या होता है | AM and PM full form in hindi

AM और PM का मतलब क्या होता है | AM and PM full form in hindi

AM और PM का मतलब क्या होता है | AM and PM full form in hindi
am और pm का मतलब - full form

AM और PM का मतलब क्या होता है | AM and PM full form in hindi फ्रेंड्स क्या आप इसके बारे में जानते हैं आप इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं इसका मतलब कि आप नहीं जानते तो कोई बात नहीं hindi help zone में आज मैं आपको इसकी पूरी जानकारी दूंगा तो चलिए शुरू करते हैं

फ्रेन्ड अगर आपको टाइम देखना होता है तो आप काया करते हो जरूर आप घडी मे देखते होगे लेकीन आजकी टेक्नोलोजी के चलते am और pm का मतलब कई लोगो को कन्फूज कर देता है और वह सोचने लगते है की यह am और pm क्या है लेकीन फ्रेन्डस अगर आपको नहीभी पता तो कोइ बात नही यहा पे मे आपको पूरी तरह से समजा दुगा।

am क्या है और pm क्या है इसका ज्ञान होना या नही होना कोई गर्व करने वाली बात तो नही है फिरभी आपको अपने ज्ञान को बढाने के लिए यह जानना जरूरी है क्यो की आपको इनका मतलब पता होगा तो आप किसी को बे झिझक बता सकेगे।

आजके यूग मे टाईम देखने के लिए हम डिजीटल घडी का यूज करते है लेकीन मे आपको बता दु की इसकि खोज बहुत पहले ही हु सुकी थी लेकीन तब टाईम देखने के लिए दिन मे सूर्य और रात मे चन्द्रमा, तारो को देखके यह तय किया जाता था की टाईम क्या हुआ है तो चलिए जानते है am और pm full form के बारे में

AM और PM का मतलब क्या होता है ? | AM and PM meaning in hindi

यहा पे मे आपको बताउगा AM and PM meaning यानी की इसकी पूरी जानकारी।

जब कभी भी हमेसे कोइ समय पूछता है तब यातो फिर अपने मोबाइल, डिजीटल घड़ी में अलार्म लगाते वक्त हमे AM और PM को लेकर सावधानी बरतनी पडती है क्योकि यह 24 Hours के टाइम की अवधि बताने वाले AM और PM के बीच मे काफी डिफ्रन्स होता है।

समय देखते व्कत आपने यह जरूर गौर किया होगा चाहे वह मोबाईल मे हो या डिजीटल क्लोक मे वहा पे आपको am ओर pm लिखा हुआ दिखाइ देगा तब आप जरूर सोचते होगे गी आखिर यह am और pm का क्या मतलब होता है तो इसका का मतलब जानने के लिए आप काफी उतसूक होगे।

AM और PM का मतलब क्या होता है | AM and PM full form in hindi
am और pm का मतलब - full form

AM, PM यह दोनो लैटिन भाषा के word है। AM and PM का यूज समय को बताने के लिए होता है। जैसे दोपहर के 12 बजे से पहले के टाईम को AM बताया जाता है। वैसे ही मध्याह्न के 12 बजे के बाद के टाईम को PM बताया जाता है। जैसे आप ऊपर फोटो मे देख पा रहे हो।

am meaning in hindi A.M का मतलब होता है (Ante-Meridiem) अगर घडी मे हमे इस टाइम को देखना है तो यह आधी रात के 11:59 बजे से लेकर दोपहर 12:00 तक का होता है

pm meaning in hindi P.M. का मतलब होता है (Post-Meridiem) अगर घडी मे हमे इस टाइम को देखना है तो यह दोपहर 12:00 बजे से लेकर आधी रात 11:59 तक का होता है

इसे दो भागो मे बनाने का विशेष ध्येय दिन मे सूर्य और रात मे चंद्रमा और तारों की अवस्था को पहचाना जा सके

यहा पर अगर मे आपको इक इक्जामपल के तौर पर समझाउ तो मान लिजीए कल TV मे कोई प्रोग्राम आने वाला है उसका टाईम बताया गया है 9:00 AM या नी आप समझ जाएगे सुबह के 9:00 बजे

वैसे ही दूसरे प्रोग्राम का टाईम बताया गया है 6:00 PM यानी साम के 6:00 बजे। तो इस इस तराह से am and pm time को देखा जाता है। अब आप इन दोनो का मतलब समझ गए होगे।

Am and pm full form in hindi

am full form (Ante Meridiem) होता है आपने इस स्बद को सायद ही पहले कभी सुना हो क्योकि यह एक लैटिन भाषा का सब्द है। इसका अंग्रेज़ी मे अर्थ Before Noon और हिंदी मे पूर्वाह्न होता है

PM full form ( Post Meridiam ) होता है लेकिन ईन्डिया मे PM सब्द सूनते ही लोगो के मन मे सीर्फ एक ही नाम गूजता है 'PM Modi' लेकीन एसा नही है pm का अर्थ और भी होते है जैसे यहा पे PM का मतलब Post Meridiam होता हैजोकी एक लैटिन भाषा से लिया हुआ सब्द है इसे अंग्रेज़ी मे After Noon और हिंदी मे अपराह्न यानी तीसरा पहर, दोपहर के बाद का टाइम कहा जाता है।

AM और PM का उपयोग कब किया जाता है ?

12 घंटे की घड़ी में ही AM और PM का इस्तेमाल कीया जाता है 24 घंटे कि घडी में AM, PM की आवस्यक्या नही पडती है क्योकि यहा पे संख्या गिन के टाईम को देखा जाता है

For Example अगर कोइ इन्सान कई दिनो से एक बंद रूम मे पडा है वह अचानक उठा और आवाज लगाइ और कीसीसे टाइम पुसता है तो सामने वाला अपनी घडी मे टाइम देख कर बोलेगा 7:00am तो इस तरह से रूम मे बंद व्यक्ति समझ जाएगा कि इस वक्त सुबह के सात बजे है

Conclusion

तो फ्रेंड मुझे पूरी उम्मीद है कि आप अच्छी तरह से समझ गए होगे am और pm का मतलब और full form कया होता है

और अगर आप ऐसे ही दूसरे पोस्ट पाना चाहते है तो हमें E-mail से Subscribe करिए और साथ ही साथ अपने सुझाव देने के लिए Comment कीजिए और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा share करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसकि जानकारी मिले।