Thursday, February 7, 2019

Domain Name Kya hai ? - Domain कितने प्रकार के होते है ? (पूरी जानकारी) - हिंदी मे

SHARE
हेलो दोस्तों! Hindi Help Zone ब्लॉग में आपका स्वागत है आज हम जानेंगे Internet और Website से जुड़े एक खास और महत्वपूर्ण topic जो है Domain Name के बारे में यानी कि Domain Name क्या है ? - Domain कितने प्रकार के होते हैं ?  यह (पूरी जानकारी) हिंदी में.

अगर आप internet यूज करते हैं तो आपको Domain name के बारे में कुछ बातें जरूर पता होंगी जैसे Domain कैसे काम करता है ? और अगर आप इंटरनेट में नए है फिर भी आपने डोमेन नाम के बारे में सुना ही होगा what is domain name in hindi और आपने जानने की कोशिश भी की होगी DNS (Domain Name System) क्या है. ?

तो आज हम ( Domain Name की पूरी जानकारी ) के बारे में आपको बताने वाले हैं अगर आप (DNS) के बारे में नहीं जानते तो कोई बात नहीं इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप जान जाएंगे कि Domen Name (DNS) क्या होता है  -  Domen कितने प्रकार के होते है?

Domain Name Kya hai ? - Domain कितने प्रकार के होते है ?  (पूरी जानकारी) - हिंदी मे
Domain Name Kya Hai


Domain Name क्या है ?Domain Name System (DNS) क्या है ?


Domain Name साइट की पहचान (पता) होता है जिसके जरिए लोग साइट पर पहुंच सकते हैं उदाहरण के तौर पर मान लीजिए अगर आप कहीं पर रहते हैं और कोई व्यक्ति आपके पास आना चाहता है तो अगर उसको आपका पता मालूम नहीं होगा तो वह आपके पास पहुंच नहीं सकता।

बस इसी तरह Internet पर भी जितनी Web Site है उनका एक Domain name होता है यानी के उनका एक पता होता है ठीक उसी तरह domain name  एक web address है what is domain name system in hindi जिसकी मदद से हम उन साइट पर पहुंच सकते हैं.

जब इंटरनेट की शुरुआत के समय में इंटरनेट पर बहुत कम साइटे थी उस वक्त Domains Name नहीं था तब किसी भी साइट पर पहुंचने के लिए Ip Address होता था वह इस तरह होता था 1.01.21.52.25.008 जिस को याद रखने में बहुत ही मुश्किल होता था।

लेकीन आने वाले समय में कोई परेशानी ना आए इस को ध्यान में रखते हुए डोमेन की शुरुआत हुई थी जो याद रखने में बहुत आसान है जैसे कि हमारी वेबसाइट का डोमेन hindihelpzone.com है.

Internet Protocol या IP Address क्या है ?

कोई भी साइट का होता है एक आईपी ऐड्रेस ( Internet Protocol In Hindi ) जिसके जरिए उसे इंटरनेट पर पहचाना जा सकता है वह ठीक आपके शहर के पिन कोड की तरह होता है आप 10 शहरों के नाम अच्छे से याद रख पाओगे या उसके पिन कोड, आप नाम ज्यादा अच्छे से याद रख पाएंगे पिन कोड आपको अच्छे से याद नहीं रहेगा

सेम प्रॉब्लम थी कोई भी वेबसाइट के IP address को याद रख पाने में आप google.in वेब ऐड्रेस बहुत आसानी से याद रख पाएंगे अगर आप google.in के आईपी ऐड्रेस को याद रखेंगे यानी 172.217.9.164 तो शायद बहुत कम लोग होंगे जो google.in के आईपी ऐड्रेस यानी 172.217.9.164 को याद रख पाएंगे

जब कोई भी साइट इंटरनेट पर बनाई जाती है तो उसे एक आईपी एड्रेस दिया जाता है जो अंको में होता है और कोई भी लोग अंको के द्वारा किसी भी वेबसाइट का नाम याद नहीं रख पाता है इसी कारण से वेबसाइट के लिए डोमेन नेम की सिस्टम लागू की गई है।

सभी वेबसाइट के डोमेन नेम अलग-अलग होते हैं जैसे कि गूगल का google.com है, फेसबुक का facebook.com दो अलग अलग साईट का डोमेन नेम एक समान नहीं हो सकता है । तो अब आप जान गए होगे की IP Address क्या है ?

Domain Name System (DNS) कैसे काम करता है ?

जब कभी भी आप कोई भी वेबसाइट का नाम ब्राउज़र में सर्च करते हो तब ब्राउज़र आपके द्वारा सर्च हुई वेबसाइट के नाम पर छुपे IP Address को ISP (Internet Service Provider) आइडिया, एयरटेल जिओ के सर्वर पर पहुंचाता है और इसके बाद ISP यह रिक्वेस्ट गूगल के सरवर तक पहुंचाती है और इसी तरीके से गूगल आपकी वेबसाइट के आईपी ऐड्रेस को सर्च करके आपको दिखा देता है यह प्रक्रिया चंद सेकंडो में होती है।

इसीलिए जब भी आप गूगल के ऊपर किसी भी वेबसाइट का नाम सर्च करते हो तो गूगल के सर्च परिणामों में उस वेबसाइट का होम पेज कुछ ही सेकंड में खुल जाता है.

Type Of Domain Name

वैसे तो Domain Name कई प्रकार के हैं लेकिन आज हम उन सभी प्रकार से जो बहुत ही Important है उन्हीं के बारे में जानेंगे क्योंकि आप जब कभी भी कोई डोमेन नेम चुनें तो आप को बड़ी आसानी हो इस के चुनाव में

TLD - Top Level Domains

Top Level Domains [TLD] को इंटरनेट डोमेन एक्सटेंशन के नाम से भी पहचाना जाता है यह वह लास्ट वाला भाग है जहां पर डोमेन नेम समाप्त होता है Dot के पीछे का भाग इसे सबसे फर्स्ट में बनाया गया था इस डोमेन की सहायता से आप अपनी साइट को बहुत ही इजी तरीके से रैंक करवा सकते हो और इसको गूगल सर्च इंजन भी अधिक महत्व देता है

For example: TLD Extension के जिससे कोई भी Purchase कर सकता है

  • .com (commercial).
  • .org (organization)
  • .net (network)
  • .edu (education)
  • .name (name)
  • .biz (business)
  • .info (information)

Examples के लिए facebook.com, hindihelpzone.com, google.com

CcTLD - Country Code Top Level Domains

इस टाइप के डोमेन का यूज आमतौर पर किसी विशेष देश को नजर में रखकर किया जाता है यह किसी कंट्री के Two Letter ISO CODE के आधार पे नामित होते हैं Example के तौर पर कुछ महत्वपूर्ण डोमेन एक्सटेंशन दिए हैं ⤵

  • .us (united states)
  • .in (India)
  • .ch (Switzerland)
  • .cn (China)
  • .ru (Russia)
  • .br (Brazil)

Sub Domain क्या है ?

फ्रेंड्स Sub Domain वेबसाइट के मुख्य डोमेन का ही एक भाग होता है आप कोई भी TLD डोमेन बहुत से Subdomain Name में विभाजन कर सकते हो जब आप blogger.com पर ब्लॉक बनाते हो तो आपको एक फ्री में Subdomain दिया जाता है उदाहरण के लिए www.hindihelpzone.blogspot.com

तो friend i hop की आपको समझ में आ गया होगा कि डोमेन नेम क्या है ? तो दोस्तों आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इससे मदद मिले और नए पोस्ट पाने के लिए email से subscribe करिए और अपने सुझाव देने के लिए comment कीजिए

THANK U

यह पोस्ट भी पढ़े ⤵

Web Hosting Kya Hai | कितने प्रकार की होती है ?

SHARE

Author: verified_user

0 comments: